स्टार्ट अप इंडिया startup india scheme in hindi

startup india ,start up india yojna ,start up india hindi ,स्टार्ट अप इंडिया ,स्टार्ट अप इंडिया योजना ,नरेन्द्र मोदी सरकार की देश के काबिल युवाओ को, कुछ नया करने के लिए प्रोत्साहित करने की ,एक बहुत ही अच्छी पहल है —स्टार्ट अप इंडिया (startup india )|   ये मोदी सरकार द्वारा देश के युवाओं की मदद करने के लिये एक प्रभावी योजना है। ये पहल युवाओं को उद्योगपति और उद्यमी बनने का अवसर प्रदान करने के लिये भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा की गयी है जिसके लिये एक स्टार्ट-अप नेटवर्क को स्थापित करने की आवश्यकता है।देश के ऐसे युवा जो बेरोजगार बेठे है लेकिन उनके पास कुछ ऐसे नये विचार ,नई सोच है जिसके जरिए वो अपना व्यवसाय खोल सकते है तो ऐसे लोगो का इस योजना में स्वागत है |इस योजना में उद्यम चलाने के लिए न केवल सरकारी फण्ड /लोन जैसी सुविधा मिलेगी बल्कि सरकार की तरफ से उद्यमकर्ता  को ट्रेनिंग भी दी जाएगी |मोदी जी इस योजना को प्रारम्भ कर के देश को एक मजबूत आर्थिक तन्त्र में बदलना चाहते है |जिस से देश में  लोगो को रोजगार मिलेगा और आर्थिक समस्याओं से भी छुटकारा मिलेगा |योजना के बारे में विस्तार से जानने के लिए  पूरा लेख पढ़िए|

स्टार्ट अप इंडिया (startup india )  क्या है ?

इस योजना की घोषणा नरेन्द्र मोदी जी ने 2015 में अपने 15 अगस्त  के भाषण में कर दी थी |Startup India सरकार द्वारा लाई गई एक योजना है, जिसके अंतर्गत देश में व्यापार और उद्योगों को बढावा देने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है| इस योजना के तहत छोटे उद्योगों और व्यापरियों को बढावा देने के लिए उनकी Funding की जाती है, उन्हें आसान loan सुविधा दी जाती है, उनके लिए एक अनुकूल परिस्थिति  बनाई जाती है, ताकि उन्हें आगे बढने का मौका मिल सके| इस योजना का नियंत्रण ” Department of Industrial Policy and Promotion “ द्वारा किया जाता है|

सरकार चाहती है की देश के युवा लोग कुछ नया बिज़नेस सोचे और उसको करें जिससे ज्यादा से ज्यादा लोगों को रोजगार मिल सके, जिंदगी में कुछ नया करने वाले युवाओं के लिए यह Scheme किसी वरदान से कम नहीं है जो नयी सोच के लोग है और कुछ नया करने की सोच रहे है तो वह लोग इस स्कीम से जुड़कर अपना Business Start कर के लोगों को रोजगार भी दे सकते है और अपना भी एक अच्छा नाम और शोहरत हासिल कर सकते है , अगर आप को Startup से कुछ करना है तो आप प्रधान मंत्री मुद्रा बैंक से लोन लेकर अपना खुद का Business डाल सकते है।

stratup india एक नजर में —–

startup india

startup india की शुरुवात कब हुई ?

इस योजना का प्रारम्भ 16 जनवरी 2016 को प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने किया था |

startup india  का उदेश्य क्या है ?

इस  का मुख्य उदेश्य देश में उद्यमशीलता  को बढ़ावा देना हैं, जिसके कारण देश में रोजगार और नौकरियों के अवसरों को बढाया जा सके| Startup India का लक्ष्य नई रचनात्मक सोच के साथ युवाओ को जोड़ना है, जिससे वे अपने पैरो पर खड़े हो सके| इस योजना में Registered होने के बाद कई सारे  Benefits मिलते है, जिससे व्यापार करना आसान हो जाता है| स्टार्टअप इंडिया योजना ज्यादा से ज्यादा लोगो को लाभ पहुंचना चाहती है, इसीलिए वह छोटे शहरो और गाँवो के युवाओ को इससे जोड़ने का प्रयास कर रही है| Startup India देश में उद्योगीकरण को आगे बढाने के लिए एक बड़ा कदम है|

startup india में टैक्स में कितनी छुट मिलेगी ?

इस योजना में  कारोबारियों द्वारा कमाये जाने वाले मुनाफे पर व्यावसाय शुरू होने के पहले तीन साल तक इनकम टैक्स से छूट होगी।

ऐसे उद्यमों में वित्तपोषण को बढ़ावा देने के लिए उद्यमियों द्वारा किए गए निवेश के बाद अपनी संपत्ति बेचने पर 20% की दर से लगने वाले पूंजीगत लाभ टैक्स से भी छूट होगी। यह छूट सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त उद्यम पूंजीकोषों के निवेश पर भी उपलब्ध होगी।

startup india की विशेषताएँ क्या है ?

1).स्टार्टअप कारोबारियों द्वारा कमाये जाने वाले मुनाफे पर व्यावसाय शुरू होने के पहले तीन साल तक इनकम टैक्स से छूट होगी।

2) ऐसे उद्यमों में वित्तपोषण को बढ़ावा देने के लिए उद्यमियों द्वारा किए गए निवेश के बाद अपनी संपत्ति बेचने पर 20% की दर से लगने वाले पूंजीगत लाभ टैक्स से भी छूट होगी। यह छूट सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त उद्यम पूंजीकोषों के निवेश पर भी उपलब्ध होगी।

3). देश में नर्वप्रवर्तन सोच के साथ आने वाले तकनीक आधारित इन नये उद्यमों के लिये एक उदार पेटेंट व्यवस्था भी लाई जाएगी। पेटेंट पंजीकरण में इन उद्यमों को पंजीकरण शुल्क में 80% छूट दी जायेगी।

4) प्रधानमंत्री जी के अनुसार दिवाला कानून में स्टार्ट अप उद्यमों को कारोबार बंद करने के लिए सरल निर्गम विकल्प देने का प्रावधान भी किया जायेगा। इसके तहत अगर काम नही चलता है तो  90 दिन की अवधि में ही स्टार्ट अप अपना कारोबार बंद कर सकेंगे।

5). छात्रो के लिए इनोवेशन के कोर्स शुरू किये जायेंगे और 5 लाख विद्यालयों में 10 लाख बच्चो पर  फोकस करके इसको बढ़ाया जायेगा ।

6).  स्व:प्रमाणन आधारित अनुपालन व्यवस्था से स्टार्टअप पर नियामकीय बोझ कम होगा। स्व:प्रमाणन अनुपालन की यह व्यवस्था कर्मचारियों को ग्रेच्युटी भुगतान, ठेका कर्मचारी, कर्मचारी भविष्य निधि कोष, पानी और वायु प्रदूषण कानूनों के मामले में उपलब्ध होगी।

7) स्टार्टअप को वित्तपोषण का समर्थन देने के लिये सरकार 2,500 करोड़ रुपये का शुरुआती कोष बनाएगी जिसमें अगले 4 साल के दौरान कुल 10,000 करोड़ रूपये का कोष होगा।

8) दुनियाभर में स्टार्टअप की तीसरी बड़ी संख्या भारत में है। सरकार इन उद्यमों को सरकारी खरीद ठेके लेने के मामले में भी मानदंड में कई तरह की छूट देगी। स्टार्ट अप उद्यमों को सरकारी ठेकों में अनुभव और कारोबार सीमा के मामले में छूट दी जायेगी।

9) इसमें महिलाओ के लिए विशेष व्यवस्था की गयी है ।

राष्ट्रीय बचत पत्र (NSC) क्या है ? इसे कैसे खरीदे ?

प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना

startup कौन शुरू कर सकता है ?

इस योजना में शामिल होकर अपना startup शुरू करने के लिए कुछ शर्तो और नियमो को follow  करने होगा यदि आपका स्टार्टअप इन शर्तो /नियमो पर खरा उतरता है तो आप अपना स्टार्टअप लगा सकते है |जिसमे सरकार की तरफ से आपकी पूरी मदद की जाएगी

STARTUP INDIA

 

1).आपके व्यवसाय की शुरुवात हुए अभी तक 7 वर्ष से अधिक ना हुए हो और जैव प्रौद्योगिकी के शुरूआतीकरण के लिए स्थापना/पंजीकरण की तारीख से 10 साल से ज्यादा ना हुए हो|

2).आपका  व्यवसाय एक निजी लिमिटेड कंपनी या एक पंजीकृत भागीदारी फर्म या एक सीमित देयता भागीदारी के रुप में होना चाहिए|

3).आपके कारोबार का Turnover किसी भी वर्ष में 25 करोड़ रुपये से अधिक नहीं होना चाहिए|

4).आपके व्यवसाय में पहले से ही एक व्यवसाय को बांटकर या पुनर्निर्माण से संस्था का गठन नहीं हुआ होना चाहिए|

5). आपका Business नई विचार, विकास, उत्पादों, प्रक्रियाओं और सेवाओं के सुधार की दिशा में कार्य करना और यह रोजगार पैदा करने या धन बनाने की ज्यादा क्षमता रखने वाला व्यवसाय मॉडल होना चाहिए|

6) स्टार्टअप ने अंतर-मंत्रालयी बोर्ड( Inter-Ministerial Board)से प्रमाणीकरण प्राप्त किया हो , जो व्यापार की नवीन प्रकृति को मान्य करने के लिए डीआईपीपी (DIPP-  Department of Industrial Policy and Promotion )द्वारा   स्थापित किया गया हो |

startup india में apply कैसे करे ?

1). सबसे पहले इस link पर जाए जो Registration करने के लिए Govt की Official Website है:-

http://www.startupindia.gov.in/registration.php#

2. उसके बाद आपको नीचे दी गई Information भरनी होगी, जिसमे आपको अपनी और अपने Business की Details देनी होगी|

  • Entity Details
  • Full Address (Office)
  • Authorized Representative Details
  • Director(s) / Partner(s) Details
  • Information Required
  • Startup Activities
  • Self-Certification

3. उसके बाद Document Upload करने होंगे|

4. उसके बाद इस योजना की Term & Conditions को पढ़ कर, उस पर tick कर देना है|

5. फिर Captcha Code भरकर Submit के Option पर click कर देना है|

इसके बाद आपका काम हो जाएगा और अगर सब कुछ सही रहता है, तो Department द्वारा आपका आवेदन स्वीकार कर दिया जाएगा|

निष्कर्ष :—-

startup india ,start up india yojna ,start up india hindi ,स्टार्ट अप इंडिया ,स्टार्ट अप इंडिया योजना |यह योजना देश के युवा वर्ग की नई सोच का स्वागत करती है और उनको आगे आकर अपनी सोच को व्यवसाय में तब्दील करने के लिए प्रोत्साहित करती है |अगर आपके पास भी है कोई नया विचार ,नई सोच तो देर मत कीजिए सरकार आपकी पूरी मदद करेगी |आपको ये पोस्ट कैसी लगी कमेंट बॉक्स में कमेंट कर के जरुर बताए |

मुख्यमंत्री राजश्री योजना

मेक इन इंडिया

आयुष्मान भारत योजना क्या है?

प्रधानमंत्री आवास योजना

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *