अटल पेंशन योजना Atal pension yojna in hindi


नरेन्द्र मोदी की सरकार ने  मध्यम और गरीब वर्ग के लोगो के लिए अटल पेंशन योजना की शुरुवात की है |इस योजना  में अगर कोई गरीब व्यक्ति शामिल होता है तो उसे अपने बुडापे में पैसो के लिए चिंतित नही होना पड़ेगा |क्यों की 60 वर्ष की उम्र के बाद उस इन्सान को हर महीने पेंशन मिलेगी और उसकी मृत्यु के बाद उसकी पत्नी या बच्चो को मिलेगी |इस प्रकार इस योजना में शामिल होकर एक गरीब व्यक्ति अपने बुडापे में पैसो की चिंता से मुक्ति पा सकता है |

अटल पेंशन योजना  (APY ) क्या है ?

 

 अटल पेंशन योजना

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने 2015 के अपने बजट भाषण में कहा की ” मुझे दुःख है की जब हमारी युवा पीढ़ी बुढी होगी  तो उनके पास कोई भी पेंशन नही होगी ?मै सभी भारतीयों के लिए सार्वभोमिक सामाजिक सुरक्षा प्रणाली  का प्रस्ताव रखता हु |इससे किसी भी नागरिक को बीमारी ,दुर्घटना ,या वृद्धावस्था में पैसो के आभाव की चिंता नही करनी पड़ेगी |इसके लिए  राष्ट्रीय पेंशन योजना के तौर पर अटल पेंशन योजना को लागु किया गया |

इस योजना का फायदा असंगठित क्षेत्र के लोगो को होगा या फिर ऐसे लोग जो निजी क्षेत्र से है और उनको कोई पेंशन नही मिलेगी |ऐसे लोग इस योजना का लाभ लेकर अपने बुडापे को सुरक्षित कर सकते है |

इस योजना में आवेदक को हर महीने कुछ राशि बैंक में जमा करनी होगी |आप चाहे तो 3 महीने से या 6 महीने से भी ये राशि जमा कर सकते है |फिर आपके 60 साल की उम्र पूरी होजाने पर आपकी पेंशन शुरू हो जाएगी |

इस योजना के तहत 1000 , 2000 , 3000 , 4000 और 5000 तक हर महीने पेंशन प्राप्त करने का प्रावधान है |
पेंशन की राशि इस बात पर निर्भर करती है की कितनी राशि जमा की  जा रही है |अगर पेंशन 1000 रु महिना चाहिए तो जमा  राशि कम होगी और पेंशन 4000 रु या 5000 रु महिना चाहिए तो जमा राशि ज्यादा होगी | पेंशन की राशि व्यक्ति की उम्र और जमा राशि दोनो  पर निर्भर करेगी | अगर 60 साल से पहले या बाद में अंशदाता की मृत्यु हो जाए तो उसका जीवनसाथी पेंशन का दावा कर सकता है या फिर जो भी व्यक्ति नॉमिनी हो उसको पेंशन की राशि मिल जाएगी |

अटल पेंशन योजना कब शुरू की गई ?


सरकार ने 9 मई 2015 को तीन योजनाओ की शुरुवात की | जिनमे से 2 योजनाएं बीमा योजना थी -प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना और प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना | और एक पेंशन योजना थी जिसका नाम था अटल पेंशन योजना (APY )|

 जून ,2015 मे भारत के असंगठित सेक्टर के लोगो की मदद  करने के इरादे से Pension Fund Regulatory and Development Authority (PFRDA) के एडमिनिस्ट्रेशन मे एक नयी पेंशन योजना launch की जिसको की अटल पेंशन योजना (APY) का नाम दिया गया है | अटल पेंशन योजना एक गारंटीड पेंशन स्कीम है जो की नेशनल पेंशन सिस्टम (NPS) के administration मे PFRDA (Pension Fund Regulatory and Development Authority) manage करता है |

अटल पेंशन योजना का क्या फायदा है ?


इस योजना का फायदा समाज के गरीब से गरीब तबके के इन्सान को मिलेगा |यह योजना बुढे हो रहे किसी भी नागरिक को आर्थिक मजबोओति परदान करेगी |

इस योजना में सरकार 5 साल तक हर साल अंशदाता के द्वारा दिए गए अंश का 50 % या 1000 रु (जो भी कम हो ) का योगदान करेगी |यह अंशदान उन्ही को मिलेगा जो अंशदाता आयकर नही चुकाते हो और जो इस  योजना में 31 मार्च 2016 तक  शामिल हो गए हो |2016 के बाद इस योजना में सरकार अपना अंशदान नही करेगी |

अटल पेंशन योजना के लिए कौन लोग पात्र है ?

  • इस योजना में 18 से 40 साल तक का भारतीय  व्यक्ति शामिल हो सकता है |जिसकी उम्र 40 से ज्यादा हो गई हो वो इस योजना में शामिल नही हो सकता है | 
  • व्यक्ति आयकर नही चुकाता हो |
  • सरकारी कर्मचारी हैं या फिर पहले से ही ईपीएफ (Employee Provident Fund )  ,  ईपीएस  (Employee Pension scheme )  जैसी योजनाओं में शामिल हैं वे अटल पेंशन योजना का हिस्सा नहीं बन सकते हैं। हालांकि ईपीएफ खाताधारकों को पेंशन योजना में हिस्सा लेने के लिए अधिकार दिलाने वाला संशोधन जल्द ही पेश किया जा सकता है। संभवतया: इसके बाद ईपीएफ खाताधारक भी पेंशन योजना का हिस्सा बन सकेंगे।इसके अलावा किसी भी सामाजिक सुरक्षा योजना में शामिल न हो जैसे की—-
  1. कर्मचारी भविष्य निधि और विविध प्रावधान अधिनियम, 1952 (EPF)
  2. कोयला खान भविष्य निधि और विविध प्रावधान अधिनियम, 1948
  3. असम चाय बागान प्रोविडेंट फंड और विविध प्रावधान, 1955
  4. सीमेंस प्रॉविडेंट फंड एक्ट, 1966
  5. जम्मू कश्मीर के कर्मचारी भविष्य निधि और विविध प्रावधान अधिनियम, 1961
  6. कोई अन्य वैधानिक सामाजिक सुरक्षा योजनाएं नही ले रखी हो 
 अटल पेंशन योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज कौन से है ?
 
  • आधार कार्ड 
  • बैंक में बचत खाता 
  • निवास प्रमाण पत्र के लिए राशन कार्ड |   इसके अलावा बैंक और भी कोई भी दस्तावेज मांग सकता है |
 
 
अटल पेंशन योजना की विशेषताए ?
 
1)   इस योजना में अंशदाता  द्वारा किये गए अंश का 50% या 1000 रु जो भी कम  हो सरकार की तरफ से अंशदान किया जाएगा |सरकार केवल 5 साल तक ही अपनी तरफ से अंशदान करेगी |ये सुविधा केवल उन लोगो के लिए ही है जो 31 मार्च 2016 तक योजना से जुड़ चुके है |सरकार 2020 तक ही अंशदान करेगी |

2)   इस योजना  को प्रधानमंत्री जन धन योजना के साथ जोड़ा जाएगा |जिसका फायदा ये होगा की प्रीमियम की राशि जन धन खाते से अपने आप डिटेक्ट हो जाएगी |इसके लिए व्यक्ति को हर महीने बैंक आने की जरूरत नही होगी |

3)  इस योजना में व्यक्ति को 60 साल की उम्र के बाद पेंशन मिलने लगेगी |पेंशन की राशि उसके द्वारा चुने विकल्प के आधार पर होगी |
 
4)  अगर 60 साल से पहले व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है तो बाकी का प्रीमियम पत्नी भर सकती है |जैसे किसी व्यक्ति की 55 साल में मृत्यु हो जाती है और उसकी पत्नी की उम्र 50 साल है तो उसको 5 साल और प्रीमियम की राशि जमा करनी होगी |फिर पत्नी हर महीने पेंशन पाने की हकदार होगी |
 
5)  अगर 60 साल के बाद मृत्यु होती है तो भी पेंशन की राशि पत्नी को मिलेगी |अगर पति और पत्नी दोनों की मृत्यु हो जाती है तो ब्याज सहित सारी राशि उनके नॉमिनी को दे दि जाएगी |
 
6)   स्वावलंबन योजना में खाता खुलवा चुके लोगों को सीधे अटल पेंशन योजना का भागीदार बनाया जाएगा। यानि कि उनकी पुरानी पेंशन योजना को नई पेंशन योजना में मर्ज कर दिया जाएगा
 
7) इस योजना में सरकार पेंशन की गारंटी देती है की आपको पेंशन मिलेगी ही मिलेगी लेकिन आपके अंशदान से मिलने वाली पेंशन को बढाया जा सकता है |
 

 

प्रीमियम या राशि कब तक जमा करनी होगी ?
 
यह योजना 18 से 40 साल तक कि उम्र वालो के लिए है | इस में 60 साल की उम्र तक कंटिन्यू प्रीमियम की राशि जमा करनी होगी | कम से कम 20 साल तो अंशदान करना ही है |

 PMEGP लोन योजना के बारे में पूरी detail जाने
 
किस हिसाब से पेंशन मिलेगी ? 
 
सरकार की घोषणा के मुताबिक 18 से 40 वर्ष की आयु के बीच का कोई भी व्यक्ति इस योजना में शामिल हो सकता है। सरकार ने आयु और जितनी पेंशन आप हर माह लेना चाहते हैं, उसी के अनुसार हर महीने  पैसा जमा कराने के लिए स्पष्ट नीति बनाई है।
इसे एक उदाहरण से समझते है |
अगर आप हर  माह 1000 रूपए की पेंशन चाहते हैं और आपकी आयु 18 वर्ष है, तो आपको 42 साल तक हर माह 42 रूपए जमा करवाने होंगे। वहीं 40 साल की उम्र वालों को 291 रूपए 20 साल तक हर माह जमा करवाने होंगे। 1000 रूपए पेंशन के लिए आवेदन करने वाले व्यक्ति की अगर मृत्यु हो जाती है, तो उसके नामांकित उत्तराधिकारी को 1.7 लाख रू  दिया जाएगा|
इसी तरह 2000, 3000, 4000 या अधिकमत 5000 रूपए प्रति माह पेंशन चाहने वालों के लिए उम्र के हिसाब से प्रतिमाह राशि जमा करनी होगी । अगर आप 30 साल के हैं और चाहते हैं कि आपको हर माह 5000 रूपए की पेंशन मिले, तो आपको 30 साल तक प्रतिमाह 577 रूपए जमा करवाने होंगे। ऎसे लोगों की अगर मृत्यु हो जाती है, तो उनके नामांकित उत्तराधिकारी को 8.5 लाख रूपए देय होंगे।
अगर अंशदाता की मृत्यु 60 साल के बाद होती है तो सारी राशि पति या पत्नी को मिलेगी |पति या पत्नी दोनों की मृत्यु होने पर सारी राशि नॉमिनी को मिलेगी जो इस प्रकार होगी |
1000 मासिक पेंशन के लिए  Nominee को – 1.7 लाख रुपए
2000 मासिक पेंशन के लिए  Nominee को  – 3.4 लाख  रुपए
3000 मासिक पेंशन के लिए  Nominee को  – 5.1 लाख  रुपए
4000 मासिक पेंशन के लिए  Nominee को  – 6.8 लाख  रुपए
5000 मासिक पेंशन के लिए  Nominee को  – 8.5 लाख  रुपए
अगर व्यक्ति की मृत्यु 60 साल से पहले हो जाती है तो जितनी भी राशि खाते में होगी ब्याज समेत नॉमिनी को दे दी जाएगी |
जमा किये जाने वाले प्रीमियम का चार्ट  18 से 40 साल तक  —
अटल पेंशन योजना के नियम क्या है ?
1)   अगर समय पर प्रीमियम  नही चुकाया तो लेट फीस लगेगी जो इस प्रकार होगी —
 मासिक  प्रीमियम 100 रुपये  तक है, तो  लेट फीस 1 रू हर  महीना लगेगा.
मासिक प्रीमियम 101 से 500 रुपये  तक है, तो लेट फीस 2 रू हर महीना लगेगा.
 मासिक प्रीमियम 501 से 1000 रुपये  तक है, तो लेट फीस 5 रूहर महीना लगेगा.
 मासिक प्रीमियम  1000 रुपये से अधिक है, तो लेट फीस 10 रुहर  महीना लगेगा.
2)अगर 6 महीने तक एकाउंट में पैसे नही डाले तो एकाउंट फ्रिज कर दिया जाएगा 
 1 साल तक पैसे  नही डाले तो एकाउंट डीएक्टिवेट कर दिया जाएगा |
2 साल तक पैसे नही डाले तो एकाउंट को बंद कर दिया जाएगा |
3)एक व्यक्ति केवल एक ही खाता खोल सकता है 
अटल पेंशन खाता कैसे खोले ?

ऑफलाइन खाता खोलने के लिए –

  • आपको डाक घर या बैंक में जाना होगा |
  • आपको एक फॉर्म दिया जाएगा |उस में सारी जानकारी भरनी होगी |
  • जरूरी दस्तावेज लगाने होगे |
  • फॉर्म कम्पलीट कर के डाक घर या bank में देना होगा |
  • आपकी डिटेल चेक करने के बाद आपका एकाउंट खोल दिया जाएगा |

online खाता खोलने के लिए –

आपकोwww.jansuraksha.gov.inपर click करना होगा |
यह आपको सारी जानकारी मिलेगी |
online फॉर्म आप इस साईट पर जा कर भर सकते है |
अटल पेंशन योजना  खाता कैसे बंद करे ?
इस खाते को बीच में बंद नही किया जा सकता है केवल व्यक्ति की मृत्यु होने पर ही खाता बंद किया जा सकता है |
निष्कर्ष — 
अटल पेंशन योजना Atal pension yojna in hindi इस प्रकार इस योजना में शामिल होकर एक गरीब व्यक्ति अपने बुडापे में पैसो की चिंता से मुक्ति पा सकता है |इस योजना के बारे में कोई सवाल हो तो कमेंट बॉक्स में कमेंट कर के पूछ सकते है |

5 Comments on “अटल पेंशन योजना Atal pension yojna in hindi”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *